11 Feb 2016

कृमिनाशक दवा से 200 बच्चे बीमार



प्रदेश भर के सरकारी स्कूलों में बुधवार को पिलाई गई कृमिनाशक दवा से विभिन्न जिलों में करीब 200 बच्चे

जयपुर।प्रदेश भर के सरकारी स्कूलों में बुधवार को पिलाई गई कृमिनाशक दवा से विभिन्न जिलों में करीब 200 बच्चे बीमार हो गए। विश्व कृमि नियंत्रण दिवस पर चिकित्सा विभाग ने बुधवार को 1 से 19 वर्ष तक की आयु के 2.47 करोड़ बच्चों को दवा देने का लक्ष्य रखा था। जो बच्चे अनुपस्थित थे, उन्हें 15 फरवरी को यह दवा पिलाई जाएगी। इधर, विभाग का कहना है कि इस तरह के साइड इफेक्ट से घबराने की जरूरत नहीं है।

पेट दर्द, जी घबराने की शिकायत

स्कूली बच्चों को पेट दर्द और जी घबराने की शिकायत हुई। कई बच्चों ने सिर में भारीपन होना भी बताया। अस्पताल में भर्ती अधिकतर छात्र-छात्राओं को प्राथमिक इलाज के बाद छुट्टी मिल गई।

कितने बच्चे बीमार

झुंझुनूं के चिड़ावा में 60, सीकर के पलथाना में 50, चूरू के सरदारशहर में 7, तारानगर में 25 और रतनगढ़ में 23 छात्राओं की तबीयत बिगड़ी। हिंडौनसिटी में 5, सवाईमाधोपुर के चौथ का बरवाड़ा में दो, करौली के जीरोता में तीन बच्चों की तबीयत बिगड़ गई। अजमेर में दो बच्चों और भीलवाड़ा में 12 छात्राओं को दवा देने के बाद अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

हरियाणा-बिहार में भी बच्चे बीमार

पटना . नेशनल डीवॉर्मिंग डे पर बुधवार को एलबेंडाजॉल नामक दवा देने पर बिहार व हरियाणा में भी करीब 200 बच्चे बीमार हो गए। बिहार के बिहार शरीफ में 100, जमुई में 37, सीतामढ़ी में 36 बच्चे, पूर्वी चम्पारण में चार व रोहतास में दो बच्चे बीमार पड़े। वहीं हरियाणा के सोनीपत जिले में 16 स्कूली बच्चे बीमार हो गए।
Source - Patrika

Follow by Email