शेयर बाजार में सुनामी, सेंसेक्स के 807 अंक टूटने से निवेशकों के 3 लाख करोड़ डूबे

ज़ी मीडिया ब्यूरो

मुंबई : शेयर बाजार में आज बिकवाली की सुनामी आ गई और चौथे दिन भारी गिरावट देखने को मिली। खराब वैश्विक संकेतों और कंपनियों के खराब नतीजों ने बाजार को जबरदस्त तरीके से पटका है। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 807.07 अंक टूटकर 23,000 अंक के स्तर से नीचे आ गया। यह सेंसेक्स का 21 महीने का सबसे निचला स्तर है। साथ ही यह छह महीने में सेंसेक्स की सबसे बड़ी गिरावट भी है।
वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुस्ती तथा भारतीय कंपनियों, विशेषकर सरकारी बैंकों के निराशाजनक तिमाही नतीजों से निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है। बाजार में चले भारी बिकवाली के दौर के बीच निवेशकों की तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक की पूंजी डूब गई। आज आई इस गिरावट के बाद सेंसेक्स करीब एक साल पहले यानी 4 मार्च, 2015 के 30,024 अंक के स्तर से 23 प्रतिशत टूट चुका है। इस दौरान निवेशकों की 20 लाख करोड़ रुपये की पूंजी स्वाहा हो गई है।

सरकार ने हालांकि बाजार में गिरावट का दोष वैश्विक कारकों पर मढ़ते हुए कहा कि इस साल सेंसेक्स में करीब 10 प्रतिशत की गिरावट आई है, जबकि अन्य बाजार इससे कहीं अधिक टूटे हैं। सर्वकालिक उच्चस्तर से करीब 20 प्रतिशत की गिरावट को मंदड़ियों का दबाव माना जाता है। इससे लगातार गिरावट का संकेत समझा जाता है।

आज के सत्र में आई गिरावट से बंबई शेयर बाजार की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण या मार्केट कैप 3 लाख करोड़ रुपये घट गया। इस तरह सप्ताह की शुरुआत से अभी तक निवेशकों की पूंजी 7 लाख करोड़ रुपये घट चुकी है। निवेशकों की बाजार के हिसाब से पूंजी अपने सर्वकालिक उच्चस्तर से अब तक 20 लाख करोड़ रुपये घटकर 86 लाख करोड़ रुपये पर आ गई है।


बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स आज 23,758.46 अंक पर कमजोर रूख के साथ खुलने के बाद बड़ी कंपनियों के शेयरों में भारी बिकवाली से 22,909.12 अंक के निचले स्तर तक लुढ़क गया। अंत में सेंसेक्स 807.07 अंक या 3.40 प्रतिशत के नुकसान से 22,951.83 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स और निफ्टी में 3.5 फीसदी तक की कमजोरी आई है। 24 अगस्त 2015 के बाद आज निफ्टी, बैंक निफ्टी और सेंसेक्स में एक दिन की सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है। बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों ने आज 3 लाख करोड़ रुपये का मार्केट कैप गंवाया। मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी जबरदस्त बिकवाली देखने को मिली है। निफ्टी का मिडकैप 100 इंडेक्स 3.7 फीसदी गिरकर 11593 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 4.6 फीसदी की गिरावट के साथ 9801 के स्तर पर बंद हुआ है।

बीएसई और निफ्टी के सभी सेक्टर इंडेक्स आज लाल निशान में बंद हुए हैं। मेटल, ऑयल एंड गैस, पावर, एफएमसीजी, एनर्जी, बैंकिंग, आईटी, इंफ्रा, फार्मा और ऑटो सभी में चौतरफा बिकवाली आई है। बीएसई के मेटल इंडेक्स में 3.8 फीसदी, ऑयल एंड गैस इंडेक्स में 3.8 फीसदी और पावर इंडेक्स में 4.8 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

निफ्टी के एफएमसीजी इंडेक्स में 3 फीसदी, एनर्जी इंडेक्स में 4 फीसदी, आईटी इंडेक्स में 2.7 फीसदी, इंफ्रा इंडेक्स में 3.75 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 2.25 फीसदी और ऑटो इंडेक्स में 3.5 फीसदी की कमजोरी आई है। बैंक निफ्टी 3.8 फीसदी गिरकर 14028.5 के स्तर पर बंद हुआ है। निफ्टी के पीएसयू बैंक इंडेक्स में 3 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है।

Source - ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

Follow by Email