काशी में फिर PM मोदी के सामने होंगे केजरीवाल, अमित शाह भी लेंगे जायजा



वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक बार फिर वाराणसी दौरे पर एक साथ रहेंगे। दोनों नेता 22 फरवरी को रविदास जयंती के मौके पर वहां उपस्थित होंगे। हालांकि दोनों अलग-अलग कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। पीएम मोदी बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) के शताब्दी दीक्षांत समारोह में तो केजरीवाल रविदास जयंती के प्रोग्राम में हिस्सा लेंगे। शताब्दी दीक्षांत समारोह में बीएचयू मोदी को डॉक्टर ऑफ लॉ की उपाधि देगा। रविदास जयंती के प्रोग्राम में मोदी भी जाएंगे। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के बाद यह पहला मौका है जब ये दोनों नेता एक साथ वाराणसी दौरे पर जा रहे हैं। इसी दिन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी दौरे पर हैं। वह भी प्रदेश के राजनीतिक हलचल को यहां से जानने की कोशिश करेंगे। 
पीएम मोदी को बीएचयू देगा डाक्टर ऑफ लॉ की उपाधि 
वाराणसी का काशी हिंदू विश्वविद्यालय 13 फरवरी को शताब्दी वर्ष समारोह मनाने जा रहा है। इसके तहत 22 फरवरी को शताब्दी दीक्षांत समारोह आयोजित होगा। इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी को डाक्टर ऑफ लॉ की उपाधि देने की तैयार की गई है। इस क्षण को ऐतिहासिक व यादगार बनाने को कई शैक्षणिक, साहित्यिक व सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। शताब्दी दीक्षांत समारोह में प्रधानमंत्री बतौर मुख्य अतिथि दीक्षांत भाषण देंगे। कुलपति प्रो. जीसी त्रिपाठी ने बताया कि दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित होने व दीक्षांत भाषण देने के लिए विश्वविद्यालय की ओर से भेजा गया अनुरोध पीएम ने स्वीकार कर लिया है। इस समारोह में लोकसेवा एवं सुशासन के क्षेत्र में अप्रतिम अन्वेषणकर्ता, सुधारक एवं प्रखर नेता के रूप में उनकी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए उन्हें इस दीक्षांत समारोह में डाक्टर ऑफ लॉ की मानद उपाधि से सम्मानित करने का प्रस्ताव दिया गया है। इसके अलावा इसके लिए पीएम की सहमति का भी अनुरोध किया गया है। उम्मीद है इस पर उनकी हरी झंडी मिल जाएगी।

संत रविदास की जयंती में शामिल होंगे मोदी-शाह
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही भारतीय जनता पार्टी के जपा अध्यक्ष अमित शाह का भी 22 फरवरी को वाराणसी में एक कार्यक्रम है। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह संत रविदास की जयंती पर 22 फरवरी को वाराणसी में रहेंगे। अमित शाह लंका क्षेत्र में लाखों रैदासियों के बीच रहेंगे। अमित शाह इस दौरान रैदासियों के बीच रविदास जयंती मनाएंगे और लोगों को संबोधित करेंगे। बीजेपी के काशी क्षेत्र की बैठक के दौरान स्थानीय संगठन की ओर से प्रस्ताव तैयार कर 28 जनवरी को रविदास जयंती में राष्ट्रीय अध्यक्ष को शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था। पार्टी देश-विदेश से जुटने वाले लाखों रैदासियों के बीच शाह की मौजूदगी कराकर राजनीतिक जमीन को और ठोस करने की मंशा में है। इसके दो फायदे मिलने वाले हैं।

केजरीवाल भी लेंगे जयंती में हिस्सा
आम आदमी पार्टी के संयोजक तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी रविदास जयंती समारोह में शामिल होने के लिए 22 को वाराणसी में रहेंगे। आम आदमी पार्टी के पूर्वांचल संयोजक संजीव सिंह ने बताया कि कल देर रात दिल्ली से अरविंद केजरीवाल की काशी यात्रा के संबंध में सूचित किया गया है। जानकारी मिलने के साथ ही आनन-फानन रात में ही आप के महत्वपूर्ण पदाधिकारियों की बैठक भी बुलाई गई। संजीव सिंह ने बताया कि अरविंद केजरीवाल को रविदास जयंती समारोह में शामिल होने के लिए मंदिर ट्रस्ट से जुड़े लोगों ने संपर्क किया था। आमंत्रण को दिल्ली के मुख्यमंत्री ने स्वीकार करते हुए पार्टी की स्थानीय इकाई को भी यात्रा की सूचना भिजवा दी। आप के राष्ट्रीय संयोजक के आगमन को लेकर पार्टी के पूर्वांचल स्तर के पदाधिकारियों की बैठक रविवार को सुंदरपुर कार्यालय में होगी।
Source - up.punjabkesari

Follow by Email