ऑस्ट्रेलिया जीता, पाकिस्तान विश्व टी20 से बाहर




कप्तान स्टीवन स्मिथ और शेन वाटसन ने शीर्ष क्रम लड़खड़ाने के बाद उपयोगी पारियां खेली जबकि जेम्स फाकनर ने कातिलाना गेंदबाजी का अच्छा नमूना पेश करके अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया जिससे ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को 21 रन से हराकर आईसीसी विश्व टी20 में अपनी उम्मीदें बरकरार रखी।

पाकिस्तान की यह चार मैचों में तीसरी हार थी जिससे वह टूर्नामेंट से बाहर हो गया। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी जीत दर्ज की और अब भारत के खिलाफ उसका 27 मार्च को इसी मैदान पर होने वाला मैच एक तरह से क्वार्टर फाइनल जैसा होगा। भारत ने भी दो जीत दर्ज की हैं और इस मैच में जीतने वाली टीम सेमीफाइनल में पहुंचेगी। सुपर 10 में ग्रुप दो से न्यूजीलैंड पहले ही अंतिम चार में जगह सुनिश्चित कर चुका है।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 193 रन बनाए। उसके चोटी के तीन बल्लेबाज तब पवेलियन लौट गए थे जबकि उसका स्कोर 57 रन था। स्मिथ (43 गेंदों पर नाबाद 61) ने यहां से पारी संवारने का बीड़ा उठाया। उन्होंने ग्लेन मैक्सवेल (18 गेंदों पर 30 रन) के साथ चौथे विकेट के लिए 62 और शेन वाटसन (21 गेंदों पर 44 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिये 74 रन की अटूट साझेदारी की। स्मिथ और वाटसन ने 58 रन आखिरी चार ओवरों में बनाए।

यही चार ओवर आखिर में अंतर पैदा कर गए। पाकिस्तान को इनमें 59 रन चाहिए थे लेकिन उसकी टीम 37 रन ही बना पाई और इस बीच उसने चार विकेट भी गंवाए। फाकनर ने 27 रन देकर पांच विकेट लिए और पाकिस्तान को आठ विकेट पर 172 रन पर रोकने में अहम भूमिका निभायी।
पाकिस्तान की तरफ से खालिद लतीफ ने सर्वाधिक 46 रन जबकि शोएब मलिक ने नाबाद 40 रन बनाये। उमर अकमल (32) और शार्जील खान (30) लंबी पारी खेलने में नाकाम रहे। कप्तान शाहिद अफरीदी का यह आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच हो सकता है जिसमें उन्होंने 14 रन बनाए।

शार्जील ने पिछले मैच की तरह पाकिस्तान को तेजतर्रार शुरुआत दिलायी। उन्होंने नाथन कूल्टर नाइल के पारी के दूसरे ओवर में तीन चौके जड़कर अपने इरादे जतलाए लेकिन दूसरे सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद (1) फिर से नाकाम रहे। जोश हेजलवुड की गेंद पर उन्होंने मिडआफ पर आसान कैच थमाया।

स्मिथ ने पावरप्ले के आखिरी ओवर में पहले बदलाव के रूप में फाकनर को गेंद थमायी और उन्होंने शार्जील को आउट करके कप्तान को निराश नहीं किया। शार्जील कम ऊंचाई वाली गेंद पर पुल करना चाहते थे लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर विकेटों में समा गई। उमर अकमल ने आते ही वाटसन पर मिडविकेट पर छक्का और फिर दो चौके जड़कर तूफानी अंदाज में शुरुआत की लेकिन लेग स्पिनर एडम जंपा (32 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर स्वीप करने के प्रयास में उनका मिडिल स्टंप उखड़ गया।

इस बीच खालिद लतीफ ने एक छोर संभाले रखा था लेकिन सभी की निगाह अफरीदी पर थी। दर्शकों ने उनका जोरदार स्वागत किया और बूम बूम अफरीदी ने मैक्सवेल की गेंद लांग आन क्षेत्र से दर्शकों के बीच भेजकर उनका उत्साह बढ़ा दिया। जंपा पर लगाया उनका छक्का जबर्दस्त था। वह अगली गेंद पर भी बड़ा शाट खेलने के लिये आगे बढ़े लेकिन चूक गये और बाकी काम विकेटकीपर पीटर नेविले ने कर दिया।

पाकिस्तान की उम्मीद अब खालिद और मलिक पर टिकी थी। मलिक ने भी जंपा पर छक्का लगाया लेकिन फाकनर फिर से उपयोगी साबित हुए। वह स्लाग ओवरों में गेंदबाजी के लिये आये और उन्होंने खालिद और नए बल्लेबाज इमाद वसीम के लगातार गेंदों पर पवेलियन की राह दिखा दी। मलिक आखिर तक प्रयास करते रहे। उन्होंने अपनी पारी में दो चौके दो छक्के लगाए लेकिन इससे हार का अंतर ही कम हुआ। फाकनर पारी के आखिरी ओवर में भी दो विकेट लेने में सफल रहे और आखिर में मैन ऑफ द मैच बने।

इससे पहले बेहतरीन फार्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा (21) ऑस्ट्रेलिया को अपेक्षित शुरुआत नहीं दिला पाए। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज वहाब रियाज ने पारी के चौथे ओवर में उनका मिडिल स्टंप उखाड़ दिया। शीर्ष क्रम में बदलाव के कारण डेविड वार्नर (9) तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये आये लेकिन रियाज ने अगले ओवर में उनके मिडिल स्टंप का उपरी हिस्सा थर्रा दिया।

SOURCE - LIVE HINDUSTAN

Follow by Email