राष्‍ट्रपति कल इलाहाबाद के उच्‍च न्‍यायालय के न्‍यायाधिकरण के भव्‍य समारोह का उद्घाटन करेंगे President of India to inaugurate the Sesquicentennial Celebrations of the High Court of Judicature at Allahabad tomorrow

राष्‍ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी कल (13 मार्च, 2016) उत्‍तर प्रदेश की यात्रा करेंगे जहां वह इलाहाबाद के उच्‍च न्‍यायालय के न्‍यायाधिकरण के भव्‍य समारोहों का उद्घाटन करेंगे। 

पश्चिमोत्‍तर प्रांतों के लिए उच्‍च न्‍यायालय का न्‍यायाधिकरण आगरा में 17 मार्च, 1866 में लेटर्स पेटेंट के तहत अस्तित्‍व में आया। उच्‍च न्‍यायालय का स्‍थान 1869 में आगरा से इलाहाबाद स्‍थानांतरित कर दिया गया और इसके पदनाम को 11 मार्च, 1919 को जारी एक पूरक लेटर्स पेटेंट के द्वारा बदल कर इलाहाबाद के उच्‍च न्‍यायालय का न्‍यायाधिकरण बना दिया गया।

The President of India, Shri Pranab Mukherjee will visit Uttar Pradesh tomorrow (March 13, 2016) where he will inaugurate the Sesquicentennial Celebrations of the High Court of Judicature at Allahabad. 

The High Court of Judicature for the North-Western Provinces came into existence at Agra under a Letters Patent of March 17, 1866. The seat of the High Court was shifted from Agra to Allahabad in 1869 and its designation was altered to the High Court of Judicature at Allahabad by a supplementary Letters Patent issued on March 11, 1919.

Follow by Email