पीएम मोदी की डिग्रियों की जानकारी सीएम केजरीवाल को दें दिल्ली और गुजरात यूनिवर्सिटी : CIC

नई दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) ने दिल्ली विश्वविद्यालय और गुजरात विश्वविद्यालय को निर्देश दिया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हासिल डिग्रियों के बारे में पता लगाएं और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को इसकी सूचना मुहैया कराएं।

दरअसल सीएम केजरीवाल ने सूचना आयोग के कामकाज की आलोचना की थी और आयोग को लिखी चिट्ठी में प्रधानमंत्री की शैक्षणिक योग्यता से जुड़ी जानकारी सार्वजनिक करने की मांग की थी।सूचना आयुक्त ने पीएमओ को भी दिए निर्देश
सूचना आयुक्त एम श्रीधर आचार्युलू ने साथ ही प्रधानमंत्री कार्यालय को भी निर्देश दिया कि वह प्रधानमंत्री द्वारा हासिल डिग्रियों का 'विशिष्ट नंबर और वर्ष' दिल्ली विश्वविद्यालय और गुजरात विश्वविद्यालय को मुहैया कराए, ताकि उन्हें इन रिकॉर्ड का पता लगाने में आसानी हो सके।

आचार्युलू ने आदेश में कहा, 'चुनाव लड़ने के लिए शैक्षिक (डिग्री आधारित) योग्यता निर्धारित नहीं करना भारतीय लोकतंत्र की महान विशेषताओं में से एक है। जरूरी शिक्षा है, डिग्री नहीं। हालांकि जब कोई नागरिक जो कि मुख्यमंत्री के पद पर आसीन है, वह प्रधानमंत्री की डिग्री से संबंधित सूचना जानना चाहता है, उसका खुलासा करना उचित होगा।'

केजरीवाल के पत्र को एक आरटीआई आवेदन मानने का सूचना आयुक्त का यह कदम असाधरण है। उन्होंने कहा, 'आयोग दिल्ली विश्वविद्यालय और गुजरात विश्वविद्यालय के सीपीआईओ को निर्देश देता है कि वे 'श्रीमान नरेंद्र दामोदर मोदी' के नाम की वर्ष 1978 (दिल्ली विश्वविद्यालय में स्नातक) और 1983 (गुजरात विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर) डिग्रियों से संबंधित सूचना की सर्वश्रेष्ठ संभव खोज करें और उसे अपीलकर्ता श्रीमान केजरीवाल को जल्द से जल्द मुहैया कराएं।'

सीएम केजरीवाल ने सीआईसी को लिखी था तीखा पत्र
इस मामले की शुरुआत सीआईसी के दो पुराने आदेश और सीएम केजरीवाल की ओर से आचार्युलू को लिखे एक तीखे पत्र से हुई, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह आरटीआई आवेदनकर्ताओं की ओर से मांगी गई सूचना साझा करने को तैयार हैं, लेकिन सीआईसी को प्रधानमंत्री की शैक्षिक योग्यता का खुलासा करने का भी आदेश देना चाहिए।


CIC ने मुझसे पूछा कि क्या मुझसे सम्बन्धित जानकारी जनता को दे दी जाए? मेरा जवाब -pic.twitter.com/HZdPZpVsm0— Arvind Kejriwal (@ArvindKejriwal) April 28, 2016


सीआईसी को लिखी चिट्ठी में सीएम केजरीवाल ने लिखा, मुझे पता चला है कि आपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की डिग्री से जुड़ी जानकारी सार्वजनिक करने पर रोक लगा दी है। आरोप लग रहे हैं कि नरेंद्र मोदी जी के पास कोई डिग्री नहीं है। ऐसे में पूरे देश की जनता सच्चाई जानना चाहती है। फिर भी आपने उनकी डिग्री से संबंधित जानकारी सार्वजनिक करने से मना कर दिया। आपने ऐसे क्यों किया? यह तो गलत है।

डीयू ने आरटीआई का जवाब देने से किया था मनाइससे पहले, इस महीने की शुरुआत में दिल्ली विश्वविद्यालय ने आरटीआई के तहत मांगी गई पीएम मोदी की स्नातक डिग्री से जुड़ी जानकारी देने से इनकार कर दिया था। विश्वविद्यालय का कहना था कि उसके पास उनके रोल नंबर का विवरण नहीं है, जो कि ऐसी सूचना देने के लिए जरूरी होती है।

SOURCE - NDTV

Follow by Email