प्रत्यूषा सुसाइड केस: ब्वॉयफ्रेंड राहुल के DNA टेस्ट से सामने आएगा प्रेग्नेंसी का सच

प्रत्यूषा सुसाइड केस: ब्वॉयफ्रेंड राहुल के DNA टेस्ट से सामने आएगा प्रेग्नेंसी का सच
मुंबई. पुलिस पूछताछ में ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह ने कबूला है कि प्रत्यूषा बनर्जी ने अबॉर्शन कराया था। वह काफी पहले से प्रेग्नेंट थी और जनवरी में ही उसने अबॉर्शन का फैसला कर लिया था। ये बात भी सामने आई है कि राहुल का DNA टेस्ट हो सकता है। इससे ये पता लगाया जा सकेगा प्रत्यूषा के होने वाले बच्चे का पिता वही है या नहीं। वहीं, दूसरी ओर प्रत्यूषा का परिवार हाईकोर्ट पहुंच गया है। प्रत्यूषा के परिवार ने पुलिस पर लगाए आरोप...
- हाईकोर्ट में दायर अपनी पिटिशन में प्रत्यूषा की मां ने आरोप लगाया है कि हमने पुलिस को बताया था कि प्रत्यूषा का मर्डर हुआ है फिर भी सुसाइड का केस दर्ज किया गया।
- परिवार ने कोर्ट से मांग की है कि इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच से करवाई जाए।
- बता दें कि जेजे हॉस्पिटल की रिपोर्ट में कन्फर्म हुआ है कि प्रत्यूषा बनर्जी प्रेग्नेंट थी। 'बालिका वधू' की 'आनंदी' रही 24 साल की यह एक्ट्रेस तीन महीने से प्रेग्नेंट थी।
- उसने 1 अप्रैल को सुसाइड करने से पहले ओरल पिल लेकर अबॉर्शन कराया था।
- लेकिन इस मामले में नया मोड़ तब आया, जब मंगलवार शाम पुलिस ने उसके ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह से पूछताछ की। पुलिस ने राहुल से 6 सवाल किए।
- राहुल के खिलाफ सुसाइड के लिए उकसाने का केस दर्ज है। हालांकि, उसकी गिरफ्तारी पर 25 अप्रैल तक रोक है।
- प्रत्यूषा के अबॉर्शन की खबरों पर राहुल के पिता हर्षवर्धन ने कहा, ''जो लड़की चली गई दुनिया से, उसकी इज्जत को लेकर जो लोग मखौल उड़ा रहे हैं। उन्हें नारी का सम्मान करना चाहिए। उसको बदनाम करके अच्छा काम नहीं कर रहे।''
पुलिस और राहुल के बीच कुछ ऐसे हुआ सवाल-जवाब
1# क्या मौत के वक्त प्रत्यूषा प्रेग्नेंट थी?
राहुल -
 नहीं।
2# तुम्हारे साथ रहने के दौरान वो कब प्रेग्नेंट हुई?
राहुल -
जनवरी में हुई थी।
3# जनवरी में कब?
राहुल -
 तारीख याद नहीं है, जनवरी के पहले हफ्ते में शायद।
4# प्रत्यूषा ने अबॉर्शन कब कराया?
राहुल -
 मार्च के पहले या दूसरे हफ्ते में।
5# क्या तुमने और प्रत्यूषा ने अबॉर्शन से पहले डॉक्टरी सलाह ली थी?
राहुल - प्रत्यूषा ने एक गाइनोकोलॉजिस्ट से सलाह ली थी।
6# अबॉर्शन के वक्त क्या तुम हॉस्पिटल में उसके साथ थे?
राहुल - नहीं, वो अकेली गई थी, मैं बिजी था।

यूटरस में इन्जरी से हुआ खुलासा
- जेजे हॉस्पिटल में प्रत्यूषा के यूटरस के टिश्यूज का हिस्टोपैथोलॉजिकल एग्जामिनेशन किया गया था। उसी के बाद यह खुलासा हुआ है।
- एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक, ''इस रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि वह कुछ दिन पहले या दो-तीन महीने पहले प्रेग्नेंट हुई थी।''
- ''यूटरस में सेकंडरी इन्फेक्शन और इन्जरी मिली है, जो मिसकैरिज या अबॉर्शन से होती है।''
- डॉक्टर्स का कहना है कि ऐसी इन्जरी तभी होती है, जब अबॉर्शन कराया गया हो। यानी डॉक्टर्स की मानें तो प्रत्यूषा ने सुसाइड से पहले अबॉर्शन करा लिया था।
क्यों आई थी प्रेग्नेंट होने की खबर?
- फोरेंसिक सर्जन्स को प्रत्यूषा के यूटरस में सफेद रंग का गाढ़ा फ्लूड मिला था।
- ये प्रेग्नेंसी की शुरुआती स्टेज की तरफ इशारा करता है।
- पुलिस सर्जन डॉ. एस. एम. पाटिल ने कुछ दिन पहले मीडिया से बातचीत में कहा था, ''फ्लूड को हिस्टोपैथालॉजिकल टेस्ट के लिए भेज दिया गया है, ताकि ये पता चल सके कि क्या प्रत्यूषा प्रेग्नेंट थी।''
- जेजे हॉस्पिटल की रिपोर्ट इसी पर बेस्ड है।
कौन था बच्चे का पिता?
- एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस अजन्मे बच्चे का पिता कौन था, यह साबित करने में पुलिस को बड़ी मुश्किल होगी।
- उनका कहना है, ''चूंकि कोई टिश्यू मौजूद नहीं हैं, ऐसी हालत में डीएनए टेस्ट करना चैलेंजिंग होगा।''
- बता दें कि प्रत्यूषा अपने ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह के साथ लंबे वक्त से रिलेशनशिप में थीं। दोनों उसी फ्लैट में एक साथ रहते थे, जहां प्रत्यूषा की लाश पंखे से लटकी हुई मिली थी।
प्रत्यूषा की वकील ने छोड़ा केस
- प्रत्यूषा के माता-पिता की ओर से सरकार से स्पेशल प्रॉसिक्यूटर की मांग के बाद फाल्गुनी ब्रह्मभट्ट ने इस केस को छोड़ दिया है।
- प्रत्यूषा के पेरेंट्स ने सीएम और होम मिनिस्टर को लेटर लिखा था। इसके बाद नीलेश पवासकर को स्पेशल प्रॉसिक्यूटर बनाए जाने की बात चल रही है।
- बताया जाता है कि फाल्गुनी नीलेश के साथ कम करना नहीं चाहतीं। इसलिए उन्होंने केस छोड़ दिया।

कैसे हुई थी प्रत्यूषा की मौत?

- प्रत्यूषा ने 1 अप्रैल को फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया था। उसे फंदे से लटकते हुए सबसे पहले देखने वालों में राहुल ही था।
- राहुल ही प्रत्यूषा को हॉस्पिटल ले गया था। रिपोर्ट्स की मानें तो राहुल राज और प्रत्यूषा जल्द ही शादी करने वाले थे।
- उधर, प्रत्यूषा की मां ने आरोप लगाया है कि राहुल की वजह से ही उनकी बेटी ने खुदकुशी की।
- प्रत्यूषा के दोस्तों ने भी राहुल पर प्रत्यूषा को पीटने और परेशान करने का आरोप लगाया है।
- खुद राहुल के पूर्व वकील नीरज गुप्ता ने राहुल पर दो शादी करने का आरोप लगाया है।
- अभी तक की जांच में पुलिस को प्रत्यूषा की सुसाइड की सही वजह का पता नहीं चला है।
- पुलिस कई एंगल से इस हाई प्रोफाइल केस की जांच कर रही है।
प्रत्यूषा ने पेरेंट्स को दिए थे 2.5 करोड़?
- इस बीच, पुलिस जांच में अब यह सामने आया है कि प्रत्यूषा ने अपने पेरेंट्स और लिव-इन ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह के अकाउंट में कुछ अमाउंट ट्रांसफर किया था।
- पुलिस सूत्रों के मुताबिक, प्रत्यूषा ने पिछले चार साल में अपने पेरेंट्स को 2.5 करोड़ रुपए दिए थे।
- जबकि पिछले 10 महीने में राहुल के बैंक अकाउंट में 35 लाख रुपए ट्रांसफर किए थे।
- जब पुलिस ने पैसों के लेन-देन से जुड़े सवाल प्रत्यूषा के पेरेंट्स से पूछे तो वे जवाब नहीं दे पाए।
- जांच में यह भी सामने आया कि प्रत्यूषा के पेरेंट्स और ब्वॉयफ्रेंड राहुल पैसों के लिए लगातार उस पर दबाव बना रहे थे।
- इस वजह से वह डिप्रेशन में थी। इस दबाव के चलते ही प्रत्यूषा ने पेरेंट्स के फोन कॉल उठाना बंद कर दिया था।
फिल्म प्रोडक्शन का बिजनेस शुरू करना चाहता था राहुल
- जांच में यह भी सामने आया कि राहुल फिल्म प्रोडक्शन का बिजनेस शुरू करना चाहता था। इसके लिए उसने प्रत्यूषा से बड़ी रकम भी ली थी।
- राहुल के साथ लिव-इन रिलेशन में आने के बाद प्रत्यूषा ने न तो पेरेंट्स को पैसे दिए और न ही उनसे कॉन्टैक्ट रखा।
- सूत्रों के मुताबिक, प्रत्यूषा के दो खातों में अब भी 75 लाख रुपए मौजूद हैं।

SOURCE - BHASKER

Follow by Email