सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम घोषित, दिल्ली की टीना डाबी पहले ही प्रयास में बनीं टॉपर



टीना डाबी ने पहले ही प्रयास में यूपीएससी परीक्षा में टॉप किया है

नई दिल्‍ली: सिविल सेवा परीक्षा यूपीएससी का रिजल्‍ट घोषित हो गया है। दिल्‍ली की छात्रा टीना डाबी इस बार टॉपर बनी हैं, वहीं जम्‍मू-कश्‍मीर के अतहर आमिर उल शफी खान दूसरे नंबर पर हैं।

दिल्ली के ही जसमीत सिंह संधू ने तीसरा स्थान हासिल किया है। वह फिलहाल भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी हैं। अपने पहले ही प्रयास में शीर्ष स्थान हासिल करने वाली 22 साल की टीना ने लेडी श्रीराम कॉलेज से स्नातक किया है। उन्होंने कहा, 'निश्चित तौर पर यह मेरे के लिए गर्व का क्षण है।'
दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले से ताल्लुक रखने वाले 23-वर्षीय अतहर का लोकसेवा परीक्षा में यह दूसरा प्रयास है। साल 2014 के अपने पहले प्रयास में उन्होंने भारतीय रेल यातायात सेवा (आईआरटीएस) हासिल किया था और फिलहाल लखनऊ में भारतीय रेल परिवहन प्रबंधन संस्थान में प्रशिक्षण ले रहे हैं।

अतहर ने कहा, 'मेरा सपना साकार हो गया। मैं लोगों की बेहतरी के लिए काम करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ूंगा।' उन्होंने कहा, 'मैंने जम्मू-कश्मीर कैडर का चुनाव भी किया है। मुझे वहां काम करने का मौका मिला, तो खुशी होगी। मुझे लगता है कि मेरे राज्य के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने की बहुत गुंजाइश है।'

बनारस की अर्तिका शुक्‍ला को चौथा स्‍थान हासिल हुआ है वहीं कानपुर के शशांक त्रिपाठी ने पांचवां स्‍थान हासिल किया है। आशीष तिवारी को छठा स्थान हासिल हुआ है, जबकि रैंकिंग में सातवें स्थान पर श्रयन्या अरि हैं। कुंभेजकर योगेश विजय को आठवीं पोजिशन मिला है। कर्ण सत्यार्थी नौवें और अनुपम शुक्ला 10वें स्थान पर हैं।

संघ लोकसेवा परीक्षा में तीसरा स्थान हासिल करने वाले जसमीत के पिता भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) में काम करते हैं। उन्होंने अपनी कामयाबी के लिए अपने माता-पिता और शिक्षकों का आभार प्रकट किया है। वह साल 2014 में भी लोक सेवा परीक्षा में सफल हुए थे और भारतीय राजस्व सेवा के लिए चुने गए थे। फिलहाल वह फरीदाबाद स्थित राष्ट्रीय सीमा शुल्क, उत्पाद शुल्क एवं नारकोटिक्स आकदमी में प्रशिक्षण ले रहे हैं। यह उनका चौथा प्रयास था।

कुल 1078 उम्मीदवारों का अंतिम रूप से चयन किया गया है। इनमें सामान्य वर्ग (जनरल) से 499, अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से 314, अनुसूचित जाति (एससी) से 176 और अनुसूचित जनजाति (एसटी) कोटे से 89 प्रत्याशी सफल हुए हैं।
Source - NDTV

Follow by Email