जब यूपी की इस डीएम ने खरीदा 1550 रुपये किलो करेला

अपने सराहनीय कामों से सुर्खियां बटोरने वाली फैजाबाद की जिलाधिकारी किंजल सिंह मीडिया और शहर में चर्चा का विषय बनी हुई हैं. इस बार किंजल सिंह करेले को लेकर चर्चा में हैं. दरअसल डीएम साहिबा ने शायद अब तक का सबसे महंगा करेला खरीद कर सबको चौंका दिया है. अाखिर क्‍या है पूरा माजरा जानने के लिए अगली स्‍लाइड पर जाए...  ये भी पढें अपने सराहनीय कामों से सुर्खियां बटोरने वाली फैजाबाद की जिलाधिकारी किंजल सिंह मीडिया और शहर में चर्चा का विषय बनी हुई हैं. इस बार किंजल सिंह करेले को लेकर चर्चा में हैं. दरअसल डीएम साहिबा ने शायद अब तक का सबसे महंगा करेला खरीद कर सबको चौंका दिया है
हुआ यूं कि फैजाबाद के सब्जी मंडी इलाके में गरीब बेवा वृद्धा मूना करेला बेच रही थी. इस बीच जिलाधिकारी अपने काफिले के साथ उधर से गुजर रहीं थी. उन्होंने वृद्धा मूना को देखकर उसे 1500 रुपये की मदद करनी चाही लेकिन उसने लेने से मना कर दिया. सब्जी बेचने वाली इस वृद्ध महिला का आत्म सम्मान देख कर डीएम किंजल सिंह मंत्रमुग्ध हो गई और उन्होंने पैसों के बदले एक किलो करेला खरीद लिया.हुआ यूं कि फैजाबाद के सब्जी मंडी इलाके में गरीब बेवा वृद्धा मूना करेला बेच रही थी. इस बीच जिलाधिकारी अपने काफिले के साथ उधर से गुजर रहीं थी. उन्होंने वृद्धा मूना को देखकर उसे 1500 रुपये की मदद करनी चाही लेकिन उसने लेने से मना कर दिया. सब्जी बेचने वाली इस वृद्ध महिला का आत्म सम्मान देख कर डीएम किंजल सिंह मंत्रमुग्ध हो गई और उन्होंने पैसों के बदले एक किलो करेला खरीद लिया.

उन्होंने मूना से 1 किलो करेले का दाम पूछा और दाम पूछने के बाद मूना की बताई कीमत के अनुसार 1 किलो करेला भी लिया, लेकिन मूना की खुशी का तब ठिकाना ना रहा, जब 50 रुपए किलो करेले की कीमत डीएन ने 1550 रुपए दिए.डीएम किंजल सिंह के निर्देश पर मूना को उज्वला योजना के तहत चूल्हा और सिलेंडर, एक टेबल फैन, सोने के लिए तख़्त, पहनने के लिए दो साड़ी और चप्पल भी उपलब्ध कराया गया. जिलाधिकारी ने इस गरीब की जिंदगी रातों रात बदल दी. 75 वर्षीय वृद्ध महिला मूना और उसकी नातिन की तकलीफ़ों को देखते हुए जिला प्रशासन ने मूना को सरकारी आवास और हैंडपंप की सुविधा देने का फैसला किया है.

इतना ही नहीं, उसी दिन देर रात को डीएम किंजल सिंह अधिकारियों के साथ मूना के झोपड़े में पहुंच गई और घर की हालत देखने के बाद आहत डीएम किंजल सिंह ने साथ मौजूद अधिकारियों को तत्काल मूना के घर में 5 किलो अरहर की दाल, 40 किलो चावल, 50 किलो गेहूं, 20 किलो आटा पहुंचाने का निर्देश दिया.
इतना ही नहीं, उसी दिन देर रात को डीएम किंजल सिंह अधिकारियों के साथ मूना के झोपड़े में पहुंच गई और घर की हालत देखने के बाद आहत डीएम किंजल सिंह ने साथ मौजूद अधिकारियों को तत्काल मूना के घर में 5 किलो अरहर की दाल, 40 किलो चावल, 50 किलो गेहूं, 20 किलो आटा पहुंचाने का निर्देश दिया.
डीएम किंजल सिंह के निर्देश पर मूना को उज्वला योजना के तहत चूल्हा और सिलेंडर, एक टेबल फैन, सोने के लिए तख़्त, पहनने के लिए दो साड़ी और चप्पल भी उपलब्ध कराया गया. जिलाधिकारी ने इस गरीब की जिंदगी रातों रात बदल दी. 75 वर्षीय वृद्ध महिला मूना और उसकी नातिन की तकलीफ़ों को देखते हुए जिला प्रशासन ने मूना को सरकारी आवास और हैंडपंप की सुविधा देने का फैसला किया है.
SOURCE - hindi.pradesh18

Follow by Email