“जिसका मन जितना बड़ा, वह उतना बड़ा आध्यात्मिक हैः” राजनाथ सिंह

·      लांग टर्म गेन के लिए शार्ट टर्म पेन लेना ही पड़ता हैः राजनाथ सिंह
·      देश में आर्थिक परिवर्तन दिखाई दे रहा हैः संतोष गंगवार
केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवम्बर 2016 को नोटबंदी का जो फैसला लिया था उससे काले धन पर लगाम लगेगी।  आज लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में डिजीधऩ मेले के कार्यक्रम को संबोधित करते हुये श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारी सरकार कैशलेस का अधिक से अधिक प्रचार करेगी ताकि कैशलेस ट्रांजेक्शन आम लोगों तक पहुंचे सके। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारा देश  विश्व में तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है और यह दुनिया की शीर्ष दस तेज गति से बढती हुयी अर्थव्यवस्था में शामिल है और कैशलेस ट्रांजेक्शन से
हमारा देश अगले दस वर्षों में विश्व की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्था में शामिल हो जायेगा। श्री सिंह ने यह भी कहा, ‘’भारत जैसे देश मे जहां निरक्षरता ज्यादा  है, क्या वहां कैशलेस ट्रांजेक्शन संभव है, लेकिन मेरा विश्वास है कि भारत धीरे-धीरे कैशलेस को अपना लेगा और आज हमारे देश में 300 फीसदी तक कैशलेस ट्रांजेक्शन बढ़ चुका है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा नोट-बंदी का फैसला एक साहसिक, ऐतिहासिक और भारत को विश्व का आर्थिक महाशक्ति बनाने वाला फैसला है। उन्होंने कहा कि हमारे घरों में जो अनुपयोगी धन रखा हुआ था, वह अब बैंक में आ गया है,  जिसके माध्यम से भारत सरकार बड़ी-बड़ी परियोजनाओं में धन लगा सकेगी और हमारे देश का विकास अब तेजी से होगा।

          केन्द्रीय़ वित्त राज्यमंत्री श्री संतोष गंगवार ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देश में परिवर्तन अब लोगों को समझ में आ रहा है और हमारे देश में आर्थिक परिवर्तन अब लोगो को दिखाई भी दे रहा है। काले धन के खिलाफ प्रधानमंत्री ने जो कदम उठाया है वह अभूतपूर्व है और इससे भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी। उन्होंने कहा कि कैश भुगतान को कम करके कैशलेस की तरफ बढना होगा और गांव के लोगो को भी कैशलेस सिखाना होगा और इसमें देश के व्यापारियों को भी साथ देना होगा।


          लखनऊ में आज सातवां ड्रॉ निकाला गया, देश में इस तरह के कुल 100 ड्रॉ 14 अप्रैल तक निकाले जायेंगे। इस ड्रॉ में जिन लोगों ने रुपे, यूपीआई, ऐईपीएस, यूएसएसडी के  माध्यम से कैशलेस ट्रांजेक्शन किये थे,  उनमें से 15000 लोगों का आज लखनऊ में सातवां लकी ड्रॉ किया गया। जिसमें 7 बैंक से 12 लोग, जिन्होंने यूएसएसडी के माध्यम से, 21 बैंक से 187 लोग, जिन्होंने यूपीआई के द्वारा, 39 बैंक से 391 लोग, जिन्होंने एईपीएस के माध्यम से  और 257 बैंक से 14409 लोग, जिन्होंने रुपे कार्ड से कैशलेस ट्रांजेक्शन किया उन्हें इस ड्रॉ में लकी विनर चुना गया।
          इस कार्यक्रम में भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम द्वारा चुने गये लोगों को केन्द्रीय गृह मंत्री, केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री और उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये, जिसमें श्री रामपाल (खाद व्यापारी), श्री जगपाल वर्मा (किसान) शामिल हैं। इसके अलावा जनसेवा केन्द्र के संचालक श्री आशीष शुक्ला, श्री विकास कुमार वर्मा, सुश्री वन्दना गुप्ता और श्री ज्ञान सिंह को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
लखनऊ के महापौर श्री दिनेश शर्मा, नीति आयोग के सलाहकार श्री आलोक कुमार, विख्यात पार्श्व गायक श्री कैलाश खैर और इंडियन ऑयल कार्पोरेशन के अविनाश चन्द्र भी इस अवसर पर मौजूद रहे।  इस डिजिधन मेले में टेलीकाम कंपनियों, बैंकों, खाद कंपनियों के स्टाल लगे थे, जो आमजन को कैशलेस ट्रांजेक्शन के लिये जागरुक कर रहे थे।

Follow by Email