अगर नियम टूटा है तो संजय दत्त फिर भेज दें जेलः कोर्ट से महाराष्ट्र सरकार

संजय दत्त
संजय दत्त


एक्टर संजय दत्त के लिए एक बुरी खबर आ रही है. म‍हाराष्ट्र सरकार ने बॉन्बे हाईकोर्ट से कहा कि अगर कोर्ट को लगता है कि संजय दत्त को परोल दिए जाने में नियमों की अवहेलना हुई है, वह संजय दत्त को वापस जेल भेज सकता है.
पिछले महीने बॉम्बे हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा था कि 57 साल के संजय दत्त को उनकी 5 साल की सजा कंप्लीट करने के पहले क्यों रिहा कर दिया गया था.
सजा के दौरान कई बार बाहर आए थे संजय
बता दें कि संजय दत्त को उनकी सजा खत्म होने के 8 महीने पहले ही उनके अच्छे बर्ताव को देखते हुए रिहा कर दिया गया था. आज जज ने उनके अच्छे बर्ताव के कारण को विस्तार से बताने के लिए कहा है. लेकिन अपनी सजा के दौरान संजय दत्त कई बार जेल से बाहर आए और उन्हें 100 से ज्यादा ऐसे दिन मिले हैं जिसके बाद कई सवाल उठते हैं कि क्या उन्हें ये सुविधा उनके वीआईपी स्टेटस की वजह से मिली थी.

पिछले महीने बॉम्बे हाईकोर्ट के जज ने ऑथोरिटीज से सवाल किए थे कि उन्हें कैसे पता चला की संजय दत्त का जेल में बर्ताव अच्छा था. उन्हें इस बात को चेक करने का समय कब मिला जबकि आधे टाइम तो वो परोल पर जेल से बाहर ही थे.
अगर तोड़ा गया है कानून तो...
आज राज्य सरकार के वकील ने एक बयान में कहा कि ये केस पीआईएल के तहत आया है और अगर कानून को तोड़ा गया है तो सरकार संजय दत्त को फिर से जेल भेज सकती है.
बता दें कि संजय दत्त मुंबई सीरियल धमाकों में अवैध हथियार रखने के दोषी पाए गए थे. संजय दत्त को जेल प्रशासन और कानून व्यवस्था का भी दिल जीता का हवाला देते अदालत ने उन्हें सजा की मियाद (5 साल) से 8 महीने पहले ही रिहा कर दिया था.
संजय दत्त को कब-कब मिला पैरोल?
अक्टूबर 2013 को संजय दत्त को पौरोल मिला था. उसे 14 दिन और बढ़ा दिया गया था. दिसंबर 2013 में उन्हें 30 दिन का पौरोल दिया गया था, जिसे दो बार बढ़ाया गया. एक्टर की बहन इसके लिए गारंटर थीं. जब से उनकी सजा शुरू हुई थी तब से उन्होंने जेल से बाहर 146 दिन बिताए थे?
Source - AAJ TAK

Follow by Email